Great Beneficence ( Ishwarchandra Vidya Sagar- A motivational Story in Hindi)/उपकार


उपकार
( ईश्वरचंद्र विद्या सागर- एक उपकार से जीवन बदल दिया )

ऐसे  उपकारी जो जीवन को नयी दिशा दे .
  ईश्वरचंद्र विद्यासागरएकबारकहींजारहेथे, रास्तेमेंएकलड़काभीखमांगरहाथा, उसलड़केनेईश्वरचंद्रविद्यासागरजीसेएक पैसामाँगा,
ईश्वरचंद्र जीनेउसलड़केसेपूछा- “ तुमएकपैसेकाक्याकरोगे?”
लड़के ने कहा- “ साहब, मैंइसएकपैसेसेअपनापेटभरूँगा,”
ईश्वरचंद्र जीनेफिरपूछा- “ यदीमेंतुमकोदोपैसेदूँतो?”
लड़के ने तबउत्तरदिया-“ तब, मैंएकपैसेसेअपनापेटभरूँगा, औरजोएकपैसामेरेपासबचेगा, उससेमैंअपनीबूढीमाँकेलिएचनेलेजाऊंगा,”
ईश्वरचंद्र जीनेपुनःउससेपूछा- “ तुम्हेंएकरुपयादूँतो?”
इसपे लड़केनेकहा-“ साहब! तबतोमैंथोड़ासामानखरीदूँगाऔरउसेबाजारमेंजाकेबेचूँगा, धीरे-धीरेकरकेमैंअपनेपैरोंपेखड़ाहोजाऊंगा, मुझेअपनीरोजी-रोटीकेलिएफिरकिसीपेनिर्भरनहींरहनाहोगा, औरईश्वरकोधन्यवाददूँगा,”
ईश्वरचंद्र विद्यासागरजीनेबड़ीप्रसन्नताकेसाथउसलड़केकोएक रुपयादेदिया, उनदिनोंएकरूपयेकिबहुत-बड़ीकीमतहोतीथी,
कुछ समयबादवहीलड़काईश्वरचंद्रजीकोदुबारादिखा, वहएकछोटीसीदुकानपेबैठाथा, येदुकानउसकीखुदकिथी ,उस एक रूपये से जो ईश्वरचंद्र ने उसे दिए थे,
ईश्वरचंद्र जीकोदेखतेहीलड़कातुरन्तदुकानसेबाहरआयाऔरउनकेपैरोंपेगिरपड़ा, लड़केकिआखोंमेंश्रद्धाकेआसूंथे, वोरुंधेहुवेगलेसेईश्वरचंद्रजीसेबोला–“ साहब! आपकेउपकारनेमेराजीवनबदलदिया, मेराभीखमांगनासदाकेलिएछूटगया, मैंभीइससमाजकाएकअच्छानागरिकबनगया,”
ईश्वरचंद्र जीनेउसलड़केकोगलेलगालियाऔरउससेबोले- “बेटातुमभीसदाऐसेहीदूसरोंकिसहायताकरना,”
            

     Note:This motivational story shared here is not my original creation, I have read it before and I am just providing it in my own way in Hindi language.
   

Related Post            
Incredible Humility                                                           

      
Suggested - Post   
हंस  एक विवेकशील प्राणी                                           Hans - A Rational Creature
धन कि वृद्धि लगातार कैसे करें                                       Howto increase wealth constantly
सच्ची विजय                                 TrueVictory
    




Similar Videos

0 Comments: